तकनीक का तार्किक उपयोग

मेरे सभी विद्‌यार्थियों का शैक्षणिक-सत्र 2019-2020 में हार्दिक स्वागत है। इस नए वर्ष में हिन्दीज्ञान आप सभी के लिए हिन्दी शिक्षण अधिगम प्रक्रिया में कई जानवर्द्धक बदलाव लेकर आएगा जिसकी सहायता से विद्‌यार्थी शिक्षण प्रक्रिया में रोचक अनुभव प्राप्त करेंगे। चूँकि हिन्दीज्ञान सदैव हिन्दी शिक्षण में तकनीक को अत्यधिक महत्त्व देता है, इसलिए इस वर्ष भी हमारी टीम तकनीक के नए आयामों पर गहनता से विचार करेगी। हमारा मानना है कि आज एक विद्‌यार्थी को यदि सूचना की जरूरत है तो उसे किसी शिक्षक की आवश्यकता नहीं है। उसे माउस के एक क्लिक पर पूरी सूचना या जानकारी प्राप्त हो जाती है लेकिन उस सूचना में कितनी सच्चाई है, इसकी जानकारी के लिए गहन विश्लेषणात्मक योग्यता की जरूरत पड़ती है जो उसे योग्य शिक्षक के सानिध्य से ही प्राप्त हो सकता है।

अत: शिक्षक के लिए यह बहुत जरूरी है कि वह अपनी तार्किक योग्यता का सही ढंग से प्रयोगकर विद्‌यार्थियों का उचित मार्ग-दर्शन करे।


0 views

© 2020 by Saumitra Anand & Hindijyan